public-bus-india
Commercial vehicles NEWS Quick Read

सीआईआरटी की जांच के बाद ही मिलेगी सार्वजनिक बसों को हरी झंडी

हाल के दिनों में सार्वजनिक बसों में आई तकनीकि खराबी को देखते हुए आने वाले दिनों में इस कमी को दूर करने का जिम्मा केंद्रीय सड़क परिवहन की टीम यानी (सीआईआऱटी) को दिया गया है।

दरअसल यह फैसला तब लिया गया जब उत्तराखंड सड़क परिवहन निगम द्वारा खरीदी गई बसों में तकनीकि खराबी नजर आई। ये जानकारी देते हुए उत्तराखंड सड़क परिवहन निगम के प्रबंधक दीपक जैन ने बताया की अब इन बसों को सीआईआरटी की टीम जांच करेगी।

आपको बता दें कि केंद्रीय सड़क परिवहन संस्थान की स्थापना तत्कालीन शिपिंग और परिवहन मंत्रालय तथा राज्य सड़क परिवहन के सहयोग से की गई थी।

हाल ही में उत्तराखंड परिवहन निगम ने साल के अंत तक 800 नए बस खरीदने की घोषणा की थी, जिसमें से 150 बसें खरीदी जा चुकी है। ये बसें देहरादून, कुमाऊं और टनकपुर से चलेंगी।

राज्य के सड़क परिवहन मंत्री यशपाल आर्य ने पिछले महीने ही हल्द्वानी से 20 नई बसों को हरी झंड़ी दिखाई थी। उन्होंने दावा किया कि नई बसों में यात्रियों के लिए पैनिक बटन, चौड़ी सीट और सीसीटीवी कैमरे जैसी सुविधाएँ दी गई हैं। इतना ही नहीं बसों में जीपीएस भी लगा है, जिसे एक कंट्रोल रूम द्वारा मॉनिटर किया जाएगा। बसों में फायर डिटेक्शन अलार्म भी है।

लेकिन सड़क पर उतरते ही इन बसों में कुछ तकनीकि खराबी नजर आई, जिसके बाद से बसें लगातार बंद पड़ी हैं, और रोजाना उत्तराखंड परिवहन निगम को लाखों का नुकसान उठाना पड़ रहा है।

उम्मीद है कि सीआईआरटी की टीम जल्द ही इऩ बसों में आ रही खराबी को दूर करेगी, और एक बार फिर से यह बसें सड़कों पर दौड़ने के लिए तैयार हो जाएगी। इस समस्या को देखते हुए आने वाले समय में नए खरीदे गए बसों को सीआईआऱटी की जांच से गुजरना होगा ताकि बाद में ऐसी समस्या न आए।

सभी कमर्शियल वाहनों के बारे में जानने के लिए BabaTrucks पर क्लिक करें।