truck-india
Commercial vehicles NEWS Industry Updates

वाहन चालकों के लिए राहत की खबर अब आरसी और ड्राईविंग लाइसेंस की हार्ड कॉपी साथ रखना जरूरी नहीं

अक्टूवर का महीना वाहन चालकों के लिए एक ऐसी खुशखबरी लेकर आया है, जिसकी मांग वो बहुत दिनों से कर रहे थे। डिजिटल होती अर्थव्यवस्था में लोगों की मांग थी कि वाहन संबंधी डॉक्यूमेंट को भी डिजिटलाईज्ड किया जाए।

अब पाएं अपनी गाड़ी से सम्बंधित सभी जानकारी Vahan Jankari पर!

सरकार ने लोगों की ये मांग स्वीकार कर ली है और अब मोटर व्हीकल नियमों में बदलाव करते हुए इसे एक अक्टूवर से लागू भी कर दिया है।

मतलब अब अगर आपके पास डिजीलॉकर या फिर एम-परिवहन ऐप पर आपके वाहन संबंधी डॉक्यूमेंट उपलब्ध हैं, तो आपको हार्डकॉपी पास रखने की जरूरत नहीं पड़ेगी।

यानि अब आरसी, ड्राईविंग लाइसेंस, पीयूसी और इंश्योरेंस पेपर सभी आप अपने स्मार्टफोन में डिजिटल तरीके से रख सकते हैं और वो पूरी तरह से वैद्ध होगा। यहां ध्यान देने वाली बात ये है कि फोन में इन डॉक्यूमेंट की केवल फोटो खींच कर रखना ही काफी नहीं होगा।

हालांकि पिछले साल भी सरकार ने सभी राज्य परिवहन और पुलिस विभागों को ऐसे वैद्ध डिजिटल डॉक्यूमेंट्स को मान्यता देने के लिए एडवाइजरी जारी की थी, लेकिन मोटर व्हीकल नियमों में बदलाव कर अब इसे कानूनी रूप से लागू कर दिया गया है।

हालांकि इसे लागू करना अब भी सरकार के लिए बड़ी चुनौती होगी कि वो इस प्रक्रिया के लिए पुलिस और परिवहन विभाग के अधिकारियों को ट्रेनिंग और संसाधन उपलब्ध कराएं, जिससे वो इन डॉक्यूमेंटों को ऑनलाईन वेरिफाइ कर सकें।

इसके अलावा सड़क परिवहन मंत्रालय की ओर से ये भी सख्त निर्देष दिया गया है कि सड़क दुर्घटना में घायल व्यक्ति के व्यक्तिगत जानकारी गुप्त रखी जाएगी। इसके अलावा घायलों की मदद करने वालों के लिए इस नियम में कई तरह के सुझावों की बात की गई है, जिससे अब लोग बिना डरे घायलों की मदद कर सकेंगे।

अब गाड़ी ब्लैकलिस्ट सम्बंधित सभी जानकारी पाएं एक क्लिक से!