fastag-india
Commercial vehicles NEWS Industry Updates

सरकार का ऐलान, टोल प्लाजा पर बिना फास्टैग के नहीं मिलेगी कोई छूट

केंद्रीय परिवहन मंत्रालय की तरफ से पहले भी कहा जा चुका है कि लोग पूरी तरह से फास्टैग सेवा को अपनाएं और डिजिटल पेमेंट को बढ़ावा देने में अपना योगदान दें। लेकिन अब भी लोगों की उदासीनता के कारण राष्ट्रीय राजमार्ग सड़क प्राधिकरण अपने लक्ष्य को हासिल नहीं कर पाया है।

अब पाएं अपनी गाड़ी से सम्बंधित सभी जानकारी Vahan Jankari पर!

इसलिए इस दिशा में केंद्रीय परिवहन मंत्रालय ने बड़ा ऐलान करते हुए कहा है कि अब टोल प्लाजा पर किसी भी तरह की छूट तभी मिलेगी, जब आप फास्टैग सेवा का उपयोग कर रहे हों। फास्टैग लगाने के लिए प्रोत्साहन देने की दिशा में ये सरकार का बड़ा कदम है।

सरकार ने ये कदम दरों और संग्रह का निर्धारण नियम के आधार पर उठाया है। सरकार द्वारा जारी अधिसूचना सोमवार से पूरी तरह लागू हो जाएगी। इस अवसर पर एक घोषणा ये भी की गई है कि यदि कोई वाहन चालक 24 घंटे में वापस लौटता है तो उसे टोल टैक्स में छूट दी जाएगी और इसके लिए उन्हें किसी तरह की रसीद भी दिखाने की जरूरत नहीं होगी।

इसके अलावा अन्य सभी स्थानीय छूट उन्हें ही मिलेगी जिनके पास वैलिड फास्टैग हो। यहां ध्यान देने वाली बात यह है कि जो प्री-पेड सेवा का इस्तेमाल करेंगे, उन्हें ही ये छूट प्राप्त होगी।

हालांकि आपको बता दें कि डिजिटल पेमेंट को बढावा देने और उपभोक्ताओं को टोल प्लाजा की लंबी लाइनों से छूटकारा दिलाने के लिए सरकार ने 2014 से इस सेवा की शुरूआत की थी।

लेकिन आधारभूत सुविधाओं की उपलब्धता में कमी के कारण ये जुलाई 2019 से लागू किया जा सका था। शुरूआत में लोगों ने इस सेवा को बहुत पसंद किया, लेकिन रफ्तार धीरे-धीरे कम होती गई।

अब सरकार के इस नए फैसले के बाद फास्टैग अपनाने की रफ्तार एक बार और बढ़ने के अनुमान हैं, क्योंकि हाल ही में खबर आई थी कि मेडिकल केयर प्रदान करने के लिए सरकार टोल टैक्स में इजाफा करने वाली है। ऐसे में छूट का विकल्प लोगों के लिए एक राहत भरी खबर है।

अब अपने ई-चालान की सभी जानकारी पाएं एक क्लिक से!