indian-trucks
Commercial vehicles NEWS Quick Read

ऑटो कंपनियों ने लगाई सुप्रीम कोर्ट में गुहार, पुराने वाहन बेचने की समयसीमा बढ़ाने की मांग की

सुप्रीम कोर्ट ने अक्टूबर 2018 में ये आदेश दिया था कि 31 मार्च 2020 के बाद बीएस 4 वाहन का रजिस्ट्रेशन बंद कर दिया जाएगा, क्योंकि 1 अप्रैल 2020 से देश भर में बीएस 6 मानक लागू होगा। हर कंपनी को इस मानक का पालन करना होगा।

आज के लिए डीजल और पेट्रोल की कीमत जानने के लिए क्लिक करें: babatrucks.com/fuel-price-index

लेकिन देश में लगातार गिरती अर्थव्यवस्था और कोरोना वायरस के चलते सेल्स में आयी कमी ने कंपनियों की मस्किलें बढ़ा दी है। इस परेशानी से निपटने के लिए ऑटो कंपनियों ने सुप्रीम कोर्ट में गुहार लगाई है कि पुराने वाहन को बेचने की समयसीमा 31 मार्च से बढ़ाकर 31 मई कर दी जाए।

फेडरेशन ऑफ ऑटोमोबाइल डीलर्स एसोसिएशन ने कहा है कि सुप्रीम कोर्ट को 31 मई तक का समय देना चाहिए, क्योंकि सेल्स में आई कमी के कारण बीएस 4 वाहनों का स्टॉक बढ़ा है, जिसे कुछ वक़्त चाहिए। ऐसे में 31 मार्च तक का समय ऑटोमोबाइल क्षेत्र के लिए नुकसानदेह होगा।

पिछले कुछ दिनों में सेल्स में 60% की कमी आई है, जिसमे ज्यादातर मोटरबाइक शामिल है।

भारतीय वाहन निर्माता और डीलर पहले से ही आर्थिक मंदी के कारण ऑटोसेल्स में गिरावट से जूझ रहे हैं। फेडरेशन ऑफ ऑटोमोबाइल डीलर्स एसोसिएशन के अनुसार यदि समय सीमा नहीं बढ़ाई गई तो कुछ कंपनियां बंद होने के कगार पर पहुंच जाएगी। उन्हें उम्मीद है कि सुप्रीम कोर्ट कंपनियों को इस मामले में राहत जरूर देगी।

सभी कमर्शियल वाहनों के बारे में जानने के लिए BabaTrucks पर क्लिक करें।